Shayari for best friend

  • Shayari
shayari for best friend

1.एक दोस्त ने दोस्त से कहा
फ्रेंडशिप का मतलब क्या होता है
दोस्त ने मुस्कराकर कहा
पागल एक दोस्त हे तो है
जिसका कोई मतलब नहीं होता
और जहाँ मतलब हो
वहां दोस्त नहीं होता |shayari for best friend


2.जो तुम्हे ख़ुशी में याद आये तो
समझो तुम उससे मोहब्बत करते हो
और जो तुमको गम में याद आये तो
समझो वो तुमसे मोहब्बत करता है |


3.न जाने सालों बाद कैसा समां होगा,
हम सब दोस्तों में से कौन कहा होगा,
फिर अगर मिलना होगा तो मिलेंगे ख्वाबों मे,
जैसे सूखे गुलाब मिलते है किताबों मे |


4.जब साले गुजर जाये तो कौनसा समा होगा,
हम सभी दोस्तों में न जाने कौन कहां होगा,
और जब मिलना होगा तो बस ख्वाबो में,
जैसे सूखे गुलाब मिलते है किताबों में।


5.दोस्ती का रिश्ता वो होता है जो दो अंजानो को जोड़ देता है,
ज़िन्दगी कुछ भी हो पर रास्ता मोड़ देता है,
सच्चा दोस्त वही कहलाता है,
जब अपनी परछाई भी साथ छोड़ दे पर साथ सिर्फ दोस्त देता है।shayari for best friend


6.फ्रेंडशिप की कोई वजह नहीं होती
फ्रेंडशिप सजा नहीं होती
फ्रेंडशिप में होती है ईमानदारी
फ्रेंडशिप में दुन्यादारी नहीं होती
दोस्त जान से प्यारा होता है
दोस्त से जान प्यारी नहीं होती |


7.ज़िन्दगी कभी धुप तो कभी छाव है,
हमारे होठो पर बस आपका ही नाम है,
मेरे दोस्त हमसे कुछ मांग कर तो देखो,
मेरे हाथो पर मेरी जान है।


8.बहुत खूबसूरत होते है ऐसे रिश्ते
जिन पर कोई हक भी ना हो
और कोई शक भी न हो


9.हर पल साथ निभाने का वादा करते हैं,
हर रास्ते पर साथ चलने का वादा करते हैं,
तू हमे बेशक भुला देना लेकिन,
हम हमेशा तुझे याद करने का वादा करते हैं।


10.हम वो है जो दोस्ती पर अपनी ज़िन्दगी लुटा देते है,
हम तो अपनी सारी खुशियां वार देते है,
हमसे दोस्ती में बहुत गहराई से कोई वादा करना,
क्यूंकि किसी भी वादे पर हम अपनी पूरी ज़िन्दगी गुजार देते हैं।


11.एक जैसे दोस्त सारे नही होते,
कुछ हमारे होकर भी हमारे नहीं होते,
आपसे दोस्ती करने के बाद महसूस हुआ,
कौन कहता है तारे जमीन पर’ नहीं होते |


12.दोस्ती हर वक्त मिलने से नही होती,
दोस्ती तो दिल से है होती।


13.दोस्ती एक कच्चे धागे की तरह होती है,
पर इस धागे से मज़बूत कोई ज़ंजीर नही होती है।


14.छू ले आसमान ज़मीन की तलाश ना कर
जी ले ज़िंदगी खुशी की तलाश ना कर
तकदीर बदल जाएगी खुद ही मेरे दोस्त
मुस्कुराना सीख ले वजह की तलाश ना कर |


15.ये मेरा नाज़ुक सा दिल है इसे कभी मत तोड़ना,
किसी भी बात पर हमसे कभी न मुँह मोड़ना,
हम ज़रा नादान है हमारी थोड़ी सी परवाह करना,
और ये दोस्ती कभी भी हमसे मत तोड़ना।


16.क्यूँ ज़िन्दगी में ज़ख्म पे मरहम बन जाते हैं दोस्त,
क्यूँ ज़िन्दगी में साथ निभाते हैं दोस्त,
उनसे न खून का होता है न रिवाज़ का होता है रिश्ता,
क्यूँ फिर भी दूर तक साथ चलते हैं दोस्त।


17.फ्रेंडशिप का रिश्ता एक परिंदा की तरह होता है
सख्ती से पकड़ोगे तो मर जायेगा
नरमी से पकड़ोगे तो उड़ जायेगा
और मोहब्बत से पकड़ोगे तो
साडी उम्र आपके साथ रहेगा |


18.हम तो तेरी ज़िन्दगी की पहचान बन जायेगे,
हमतो तेरे लवो की मुस्कान बन जायेगे,
जो हो तेरा ज़िन्दगी में किसी मुश्किल से सामना,
हम तो तेरा आसमान बन जायेगे।


19.हम उस रब से गुज़ारिश करते हैं,
तेरी दोस्ती की ख्वाइश करते हैं,
हर जन्म में तेरे जैसा ही दोस्त मिले,
तू मिले तो सही वरना ज़िन्दगी ही न मिले।


20.अपनी जिंदगी में ऐसे दोस्त को शामिल करो
जो आइना और साया बनकर आपके साथ रहे
क्योंकि आइना झूठ नहीं बोलता
और साया साथ नहीं छोड़ता |


21.आसमान छूने की कोशीश कर ज़मीन को न ढूंढना,
ज़िन्दगी जीने की कोशिश कर खुशियों को न ढूंढना,
ए मेरे दोस्त ज़िन्दगी में हर पल मुस्कुरा कर जियो,
ज़िन्दगी जीने के लिए किसी वजह को न ढूंढना।


22.हम तो बस इतना उसूल रखते है,
जब हम तुझे कुबूल करते है,
तो तेरा सब कुछ कुबूल करते है।


23.दोस्ती का एहसान कुछ इस तरह मैं अदा करूँगा,
तू भूल जा मुझे पर मैं हर वक्त तुझे याद करूँगा,
दोस्ती से मैंने बस यही सीखा है,
खुद से पहले मैं तेरे लिए दुआ करूँगा।


24.ज़िन्दगी के रस्ते पर कितने मोड़ आते है,
कुछ मुस्कान बन कर दिल में खिलते है,
कुछ ज़िन्दगी में ऐसे दोस्त मिलते हैं,
कोई साथ दे न दे लेकिन वो साथ चलते हैं।


25.ऐ दोस्त जरा सभल कर चलना
यहा ऐसे बहुत लोग मिलेंगे
जो सिर्फ वक्त गुजारने की लिए मिलेंगे |


26.मुझे उसकी ये नादान अदा खूब भाती हैं,

नाराज़ मुझसे होती हैं और गुस्सा सबको दिखाती हैं |


27.रास्तो की क्या सीमा है ये किसे पता,
मंजिल क्या हो ये किसे पता,
दोस्ती का हर पल बहुत अनमोल होता है,
कब एक दूसरे से जुदा हो जाये ये किसे पता।


28.हर मर्ज को दवा की जरूरत नही होती है,
कुछ दर्द को दोस्तों के साथ मुस्कुराने की ज़रूरत होती है।


29.हर नज़र को एक नज़र की तलाश है
हर चेहरे में कुछ खास है
आपसे दोस्ती हम यू ही नहीं कर बैठे
क्या करें हमारी पसंद हे कुछ खास है |


30.इस जमाने में रंग रूप देखा जाता है,
पर हम दिलो को देखना पसन्द करते हैं।
इस जमाने में सपने देखे जाते हैं,
पर हम हकीकत देखना पसन्द करते हैं।
इस जमाने में लोग एक सच्चा दोस्त ढूंढा करते हैं,
और हम दोस्तों में पूरा ज़माना ढूंढा करते हैं।


31.एक चाहने वाला ऐसा हो…

जो बिल्कुल तेरे जैसा हो. |


32.कुछ लोग कहते है दोस्ती बराबर वालो से करनी चाहिये,
लेकिन हम कहते है दोस्ती में कोई बराबरी नही करनी चाहिये।


33.भूलना चाहो तो भी याद हमारी आएगी,

दिल की गहराई मे हमारी तस्वीर बस जाएगी.

ढूढ़ने चले हो हमसे बेहतर दोस्त,

तलाश हमसे शुरू होकर हम पे ही ख़त्म हो जाएगी. |


34.हम पर विश्वाश करने की कोशिश करना,
हम वेबजह किसी का भी दिल दुखाया नही करते,
कुछ ऐसा था आप में जो हमे बहुत अच्छा लगा,
वरना हम भी यूँ ही किसी को दोस्त बनाया नही करते।


35.दोस्ती उसे कहते हैं जो सुख दुःख की पहचान बन जाती है,
दोस्ती वो है जो हर चेहरे की मुस्कान बन जाती है,
दोस्ती में एक दूसरे की बात को दिल पर कभी न लेना,
क्योंकि ये दोस्ती ज़रा सी नादान बन जाती है।


36.यारो दोस्ती में कोई रूल नही होता,
और इसे सिखाने का कोई स्कूल नही होता।


37.सिर्फ शायरी पढने का रिश्ता ना रखो

कभी खैरियत भी तो पूछ कर देखो |


38.कुछ गुजरे हुए कल बहुत याद आते हैं,
कुछ यादो से आँखों में आँसू भर आते है,
वो सुबह शाम रंगीन हो जाती है,
जब यारो की यारी के लम्हे याद आते हैं।


39.दोस्ती करो तो हमेशा मुस्कुराके

किसी को धोखा ना दो अपना बना के

कार्लो याद जबतक हम जिन्दा है

फिर ना कहना चले गाए दिल में यादे बसा के |


40.दोस्ती को रौशनी की तरह बिखराओ,
दोस्ती को फूलो की तरह महकाओ,
हमे अपने दिल में बसाओ,
हमारी यादो को अपने दिल में सजाओ।


41.एक सच्चा दोस्त बेमिसाल है,
एक सच्ची दोस्ती अनमोल है।


42.वो रोए तो बहुत.. पर मुहं मोड़कर रोए..

कोई तो मजबूरी होगी.. जो दिल तोड़कर रोए..

मेरे सामने कर दिए मेरी तस्वीर के टुकडे़…

पता चला मेरे पीछे वो उन्हें जोड़कर रोए |


43.तू सामने नही पर तेरी तस्बीर बना सकता हूँ,
तेरा क्या हाल है ये तुझसे मिले बिना बता सकता हूँ,
हम तो अपनी दोस्ती पे इतना भरोसा रखते है,
तेरी आँख का आँसू अपनी आखँ से गिरा सकता हूँ।


44.दिल की हर तमन्ना पूरी हो जाये ये ज़रूरी तो नही,
दिल की हर दुआ पूरी हो जाये ये ज़रूरी तो नही,
जब हमारा इतने प्यारे दोस्त का साथ हो,
तो अब हमारा अब दिल धड़के ये ज़रूरी तो नही।


45.सच्चे दोस्त को ढूंढना बहुत मुश्किल है,
लेकिन उसे पाकर खोना और भी मुश्किल है,
और उस दोस्त को भूल जाना नामुमकिन है।


46.मेरी हर बात समझ जातें हो तुम,

फिर भी क्युँ मुझे सताते हो तुम

तुम बिन कोई और नहीं मेरा,

शायद इसी बात का फ़ायदा उठाते हो तुम |


47.ज़िन्दगी में सारे गम भुला कर जीना सीखो,
ज़िन्दगी में मुस्कुरा कर जीना सीखो,
मिलकर तो सभी दोस्त खुश होते है,
पर दोस्तों को बिना मिले ही याद के जीना सीखो।


48.क्या खूब मजबूरिया थी मेरी भी

अपनी खुशी को छोड़ दिया

उसे खुश देखने के लिए |


49.ऐ मुकद्दर के सिकन्दर मुझ पर एक एहसान करना,
मेरे दोस्त के मुकद्दर में सिर्फ मुस्कान लिखना,
दर्द की परछाई भी उस पर न पड़े,
चाहे तो उसके मुकद्दर में मेरी जान लिखना।


50.नही छोड़ी कमी किसी भी

रिश्ते को निभाने में मैंने कभी…

आने वाले को दिल का रास्ता भी दिया

और जाने वाले को रब का वास्ता भी दिया |


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *